Join us on Telegram

Join Now

Join us on You tube

Join Now

Coaching Centres की बढ़ती मनमानी पर लगाम लगाने के लिए शिक्षा मंत्रालय ने उठाया बड़ा कदम

देशभर में नीट और जेईई की तैयारी कर रहे हैं स्टूडेंट्स के बढ़ते सुसाइड मामलों और कोचिंग सेंटर्स की बढ़ती मनमानी पर लगाम लगाने के लिए शिक्षा मंत्रालय ने बड़ा कदम उठाया है जो भी कोचिग संस्थान प्रोफेशनल कोर्स की ट्रेनिंग देती है, अब उसे सरकार के अंतर्गत खुद को रजिस्टर करवाना होगा रजिस्ट्रेशन ऐंड रेग्युलेशन को लेकर बनाई गई गाइडलाइन्स को केंद्र सरकार द्वारा राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को भेज दिया गया है ताकि वह उन्हें लागू करवाए लेकिन अब ये जान लीजिये आखिर कोचिंग संस्थानों के लिए सरकार ने क्या निर्णय लिया है ऐसा क्यों किया गया कोचिंग सेंटर्स के लिए क्या दिशा निर्देश हैं और इनका पालन ना करने पर क्या कार्रवाई होगी।

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के तहत आने वाले उच्चतर शिक्षा विभाग ने देशभर में संचालित हो रहे हैं कोचिंग केंद्रों के लिए दिशा निर्देश जारी किए हैं कोचिंग सेंटर्स के रजिस्ट्रेशन ऐंड रेग्युलेशन हेतु दिशा निर्देश दो हज़ार चौबीस नाम से जारी गाइडलाइन में कई अहम बातों का जिक्र है दिशा निर्देशों के साथ ही कोचिंग, कोचिंग सेंटर और ट्यूटर की परिभाषाएं भी तय की गई है पचास से अधिक छात्रों को दी जाने वाली किसी भी शिक्षण शाखा में ट्यूशन निर्देशन या मार्गदर्शन को कोचिंग माना जाएगा हालांकि इसमें परामर्श, खेल, डैम, थिएटर और अन्य रचनात्मक गतिविधियों शामिल नहीं है।

इसे भी पड़े LIC Golden Jubilee Scholarship 2023 एलआईसी गोल्डन जुबली स्कॉलरशिप 2023-24 के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू

दिशानिर्देशों में क्या कहा गया है दिशानिर्देशों में सबसे पहले एक कोचिंग केंद्रों के पंजीकरण को लेकर निर्देश हैं इनमें से कुछ अहम है जैसे कोई व्यक्ति कोचिंग केंद्र के पंजीकरण कराने के बाद ही कोचिंग प्रदान करेगा या कोचिंग केंद्र स्थापित, संचालित या प्रबंधित करेगा या उसका रखरखाव करेगा तीन महीने की अवधि के भीतर पंजीकरण के लिए आवेदन करना होगा पंजीकरण की समाप्ति की तारीख से दो महीने पहले पंजीकृत कोचिंग केंद्र को पंजीकरण प्रमाण पत्र के नवीनीकरण के लिए आवेदन करना होगा सरकार कोचिंग केंद्र के पंजीकरण को सुविधाजनक के लिए पोर्टल बनाएगी।

पंजीकरण के लिए शर्तें क्या है सरकार ने अपने दिशा निर्देशों में किसी भी कोचिंग केंद्र के पंजीकरण को लेकर खास शर्तें रखी हैं जैसे कोई भी कोचिंग केंद्र स्नातक से कम योग्यता प्राप्त ट्यूटर को नियुक्त नहीं करेगा अभिभावकों या छात्रों को कोचिंग केंद्र में नामांकन कराने के लिए भ्रामक वादे या रैंक अथवा अच्छे अंक की गैरैन्टी नहीं देगा सोलह साल से कम आयु के छात्र का नामांकन नहीं करेगा या छात्र का नामांकन माध्यमिक स्कूल परीक्षा के बाद ही किया जाना चाहिए।

You might also check these ralated posts.....

Leave a comment